पाकिस्तान में बढे गैर मुस्लिम वोटर, अल्पसंख्यकों में सबसे ज्यादा हिंदू मतदाता हुए शामिल

लाहौर: पाकिस्तान में पिछले आमचुनाव से लेकर अब तक गैर मुसलमान मतदाताओं की संख्या 30 फीसदी बढ़ कर 36.3 लाख हो गई है. धार्मिक अल्पसंख्यकों में हिंदुओं की संख्या सबसे अधिक है और इस समुदाय के 17. 7 लाख मतदाता हैं. इस महीने 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से पहले पाकिस्तान चुनाव अयोग द्वारा जारी आंकड़े का ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने जिक्र करते हुए कहा है कि ईसाई समुदाय 16. 6 लाख मतदाताओं के साथ दूसरे स्थान पर है, जिसके बाद अहमदी समुदाय (1,67,505 पंजीकृत मतदाता) का स्थान है.

पाकिस्तान में में हो रहे आमचुनाव में सत्तारूढ़ पीएमएल – एन, इमरान खान नीत पाकिस्तान तहरीक-ए- इंसाफ और पीपीपी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है.

पाकिस्तान चुनाव अयोग ने न्यूजपेपर की खबर के बारे में बताया है कि धार्मिक अल्पसंख्यक मतदाताओं की संख्या 2013 के 27. 7 लाख से बढ़ कर 2018 में 36. 3 लाख हो गई है.

– खबर के मुताबिक 2013 के चुनाव में हिंदू मतदाताओं की संख्या 14 लाख थी.
– हिंदू मतदाता सबसे अधिक संख्या में सिंध में हैं
– सिंध में हिंदू समुदाय के 40 फीसदी मतदाता उमर कोट और थारपारकर जिलों में रहते हैं.
– इसी तरह से काफी संख्या में ईसाई पंजाब में रहते हैं.
– बहाई समुदाय के 31,543 पंजीकृत मतदाता हैं.
– पाकिस्तान में पंजीकृत सिख मतदाताओं की संख्या 8,852
– पाकिस्तान में पारसी की मतदाता 4,235 और बौद्ध 1,884 हैं.
– खैबर पख्तूनख्वा, संघ शासित कबायली इलाकों, लाहौर और ननकाना में सिख मतदाताओं की बड़ी संख्या है.

Loading...
E-Paper