शोएब की गति को मिलाते है फिर भी नहीं तोड़ पाए यह रिकॉर्ड

क्रिकेट में एक वक्त ऐसा भी था जब तेज गेंदबाज के सामने आने से बल्लेबाजों की रूह कांप उठती थी. खासतौर पर पाकिस्तान के कुछ तेज गेंदबाजों की तो बात ही कुछ अलग थी. अगर हम तेज गेंदबाजों की बात कर रहे है तो भला पाकिस्तान की शान रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर शोएब अख्तर को कैसे भूल सकते हैं. 

बता दें कि बुलेट ट्रेन की स्पीड से गेंद फेंकने वाले बॉलर शोएब अख्तर के नाम सबसे तेज गेंद फेंकने का विशव रिकॉर्ड दर्ज है. अख्तर ने साल 2003 के विश्व कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ 161.3 प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद डाली थी. आज 15 साल बीत जाने के बाद भी कई गेंदबाजों ने एड़ी-चोटी का जोर लगाकार इसे तोड़ने कि जोरदार कोशिश की लेकिन हर कोई इसमें नाकाम साबित हुआ. 

आज तक कोई गेंदबाज अख्तर के इस रिकॉर्ड को अपने नाम नहीं करने में सफल नहीं को पाया है.  लसिथ मलिंगा, ब्रेट ली, शॉन टैट, मिचेल स्टार्क,  डेन स्टेन, शेन बॉन्ड और मिचेल जॉनसन जैसे खिलाडी इस रिकॉर्ड के करीब तो पहुंचे, लेकिन इसे तोड़ नहीं सके. अफ्रीकी टीम के यंग ब्लड कागिसो रबाडा से भी उम्मीद की जा सकती है कि वह अख्तर का रिकॉर्ड तोड़ दें. वह लगातार 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंक चुके है. 

Loading...
E-Paper