भारतीय टीम को दूसरे टेस्ट में बाउंस बैक करने के लिए रोहित, रहाणे व नदीम की जगह इस खिलाडी को देना चाहिए मौका

भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड के सामने पहले टेस्ट मैच में बुरी तरह से संघर्ष करती हुई नजर आई। टीम इंडिया का इस मैच में जिस तरह का प्रदर्शन रहा उससे तो यही लग रहा था कि, उनके लिए आगे भी रास्ता मुश्किल होने वाला है। जो रूट की टीम बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी हर मोर्चे पर विराट की टीम से बीच नजर आई। अब टीम इंडिया के लिए बाउंस बैक करते हुए जीत दर्ज करना काफी अहम हो जाता है। अगर भारतीय टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचना है तो उन्हें रोटेशन पॉलिसी के तहत अगले टेस्ट मैच के लिए प्लेइंग इलेवन कुछ बड़े बदलाव करने चाहिए।

रोहित शर्मा की जगह मयंक अग्रवाल को मिले मौका

रोहित शर्मा ने इंजरी के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के जरिए मैदान पर वापसी की थी, लेकिन पिछले तीन टेस्ट मैचों में उन्होंने खासा निराश किया है। उन्होंने इन तीन मैचों में 147 रन ही बनाए हैं। अब रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे रोहित शर्मा की जगह मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के लिए प्लेइंग इलेवन में जगह दी जा सकती है। रोहित अब तक रिदम में नहीं आए हैं ऐसे में मयंक विराट व टीम मैनेजमेंट के लिए अच्छे विकल्प हैं जिनका भारत में शानदार टेस्ट रिकॉर्ड है। इंग्लैंड की तेज गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ अच्छी शुरुआत ही टेस्ट सीरीज में जीत की सबसे बड़ी चाबी साबित हो सकती है।

लगातार निराश कर रहे रहाणे की जगह केएल राहुल हैं अच्छे विकल्प

अजिंक्य रहाणे ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में शतकीय पारी खेलकर टीम की जीत में बड़ी भूमिका निभाई थी, लेकिन इसके बाद वो सभी टेस्ट में फेल रहे थे। इंग्लैंड के खिलाफ वो पहले मैच में एक और शून्य कर की पारी खेली थी। ऐसे में टीम इंडिया के पास रहाणे की जगह केएल राहुल को आजमाने का शानदार विकल्प है। केएल राहुल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिमित ओवर के क्रिकेट में शानदार फॉर्म में थे, लेकिन इंजर्ड होने की वजह से वो टेस्ट सीरीज में नहीं खेल पाए थे। अब भारतीय कंडीशन में अगर उन्हें मौका मिले तो वो टीम के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं।

शाहबाज नदीम की जगह कुलदीप यादव

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में कुलदीप यादव को मौका मिलने की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और उनकी जगह शाहबाज नदीम टीम में शामिल किए गए। नदीम पहले टेस्ट मैच में खूब सारे नो बॉल फेकते हुए नजर आए साथ ही साथ वो संघर्ष भी करते दिख रहे थे। नदीम की औसत गेंदबाजी से दूसरे गेंदबाजों पर दवाब बढ़ गया था। ऐसी स्थिति में भारत को अपने स्पिन में और वैराइटी लाने के लिए कुलदीप यादव को टीम में शामिल करना चाहिए जो विकेट-टेकर गेंदबाज हैं।

Loading...
E-Paper