जड़ से ख़त्म हो जाएगा पुराने से पुराना दाद, बस अपनाएं ये तीन घरेलू टिप्स

दाद एक ऐसी बीमारी है जो काफी परेशान करती है और यदि समय पर इसका इलाज न किया जाए तो यह धीरे-धीरे पूरे शरीर में फैलने लगता है। सर्दियों या मानसून के मौसम में इसका असर कुछ अधिक ही बढ़ जाता है।  दाद एक तरह का फंगल संक्रमण है जो किसी शख्स के सिर पैर, गर्दन या शरीर के अन्य अंदरुनी हिस्सों मे कहीं भी हो सकता है। यह लाल या हल्के भूरे रंग का होता है। जो आकार में गोल होता है। आज हम आपको इसके निदान के बारे में बताए जा रहे हैं, जिसे आप घर में रहकर भी कर सकते हैं।

नीम के पत्ते और दही
दाद से निजात पाने के लिए आप नीम के पत्ते और दही का उपयोग कर सकते हैं। इससे खुजली से भी आराम मिलता है। इसके लिए नीम के पत्तों को भिगोकर दही से साथ पीस लें। कुछ दिन तक प्रभावित हिस्से पर इस लेप को लगाने से आपको आराम महसूस होता है। 

गेंदे के फूल
गेंदे के फूल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण पाए जाते हैं। गेंदे के फूल के पत्तों को पानी में उबालकर उसका लेप बना लें। इस लेप को दिन में 2 से 3 बार प्रभावित जगह पर लगाएं। आपको कुछ दिनों में फर्क नजर आएगा। 

हल्दी और अजवाइन
हल्दी का लेप दाद खाज पर लगाने से भी इससे निजात पाने में मदद मिलती है। एक बार दिन में और रात को सोने से पहले इस उपाय को करे। अजवाइन गर्म पानी में पीस कर इसका लेप दाद पर लगाने से दाद ठीक हो जाता है, इसके इलावा दाद को अजवाइन के पानी से धोने से भी लाभ मिलता है।

Loading...
E-Paper