गजब ! संडीला तहसीलदार ने 4 रू० प्रति माह का जारी कर दिया प्रमाण पत्र

आँखे बंद करके तहसीलदार ओके रहे आय प्रमाण पत्र

साहब 4 रु० में करवा रहे एक माह का जीवन यापन

एंकर सरकार के ठोंस कदम के चलते भी अधिकारी अपनी करतूत से बाज नही आ रहे हैं | आय प्रमाण पत्र में एक मिनट की कमाई को 1 महिना दिखा रहे हैं | अब इसे लापरवाही कहें य लाल – हरे कागजों की बहती हुई गंगा | तहसील संडीला में आय प्रमाण पत्र जुगाड़ से मात्र 4 रूपये मासिक का जारी हो रहा है | जिम्मेदार संडीला तहसीलदार बिना देखे ही लेखपालों की रिपोर्ट पर आय प्रमाण पत्र जारी कर देते हैं | तहसील में यह तक नही देखा जा रहा है की कितनी व्यक्ति की आय है कितनी आय लगानी है | बिना जाँच किये जाँच अधिकारी रिपोर्ट भेज रहे हैं जिसपर आँखे बंद करके जिम्मेदार रिपोर्ट लगा रहे हैं |

बताते चलें की ग्राम अल्लीपुर मजरा सोनिकपुर थाना क्षेत्र अतरौली के चन्द्रिका पुत्र स्व0 बिहारी ने 13 जून को आय प्रमाण का जन सेवा केंद्र से ऑनलाइन आवेदन करवाया था | जिसका आवेदन नम्बर -181550010065082 व प्रमाण पत्र नम्बर -255181011377 है | आवेदन तहसीलदार संडीला पंकज कुमार सक्सेना के पोर्टल पर पहुचने के बाद तहसीलदार ने जाँच अधिकारी / लेखपाल को आय सम्बन्धित जाँच के लिए पोर्टल टू पोर्टल ट्रांसफर कर दिया जिसमे 12 दिन का समय लेते हुए लेखपाल सुशील कुमार मौर्या ने आवेदक की आय की जाँच पड़ताल करते हुए प्रति माह 4 रूपये व कुल वार्षिक आय 48 रूपये की रिपोर्ट तहसीलदार के पोर्टल पर भेज दी | जिसे आँखे मूंदकर तहसीलदार संडीला पंकज कुमार सक्सेना ने डन कर दिया | मात्र 48 रूपये वार्षिक देखकर लोगों की आँखे खुली की खुली रह गई ग्रामीणों ने तहसीलदार संडीला पर आरोप लगाते हुए कहा की लाल हरे कागजों का गेम है | नही तो एक मनरेगा मजदूर की दिन भर की मेहनत सैकड़ा में है लेकिन साहब को ये नही दिखता |

Loading...

बोले जिम्मेदार

उपजिलाधिकारी संडीला आशीष कुमार सिंह ने बताया की मैं अभी कार्यालय में नही हूँ मै निवास देखता हूँ | आय , जाति प्रमाण पत्र तहसीलदार देखते हैं | तहसीलदार का फोन मिलाने पर फोन नही मिला |

बाइट विमल कुमार अग्रवाल उप जिला अधिकारी हरदोई ने जांच कर कार्रवाई की बात कही है

Loading...