FIFA World Cup: नॉकआउट के लिए ब्राजील को सिर्फ ड्रॉ की दरकार

- in खेल

सोच्चिः पांच बार की चैंपियन ब्राजील ने फीफा विश्वकप में खराब शुरूआत से उबरते हुए वापसी की है और अब उसे ग्रुप ई के अपने आखिरी मैच में नॉकआउट में जगह पक्की करने के लिए जीत या मात्र ड्रॉ की दरकार है जिसकी राह में सर्बिया की चुनौती है।

ब्राजील का प्रदर्शन रूस में उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है लेकिन फिलहाल दबाव सर्बिया पर अधिक है जो ग्रुप में दो मैचों में एक जीत और एक हार के बाद तीन अंक लेकर तीसरे नंबर पर है जबकि ब्राजील दो मैचों में एक जीत और एक ड्रॉ खेलकर चार अंकों के साथ शीर्ष पर है।

वहीं स्विटजरलैंड भी चार अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है जिससे ग्रुप की स्थिति काफी उलझी हुई है। ब्राजीली टीम ने बाल्कन टीम के खिलाफ मात्र दो बार हार झेली है जिसमें पुराने यूगोस्लाविया से उसने वर्ष 1930 में और 1934 में हार झेली है और अब उसे अंतिम-16 में क्वालीफाई करने के लिए केवल ड्रा मात्र की जरूरत है।

सर्बिया के लिये मैच में जीत नॉकआउट का रास्ता पक्का कर देगी लेकिन यदि उसने ड्रा खेला तो स्थिति मुश्किल होगी। ऐसे में यदि स्विस टीम कोस्टा रिका को एक से अधिक गोल से हरा दे तो उसका रास्ता बन सकता है।

Loading...

ब्राजीली टीम को रूस विश्वकप में अपने खराब प्रदर्शन के कारण आलोचना झेलनी पड़ी है और नेमार की अगुवाई वाली टीम के लिये भी नॉकआउट में पहुंचना बहुत अहम हो गया है। स्विस टीम से 1-1 से ड्रा के बाद कोस्टा रिका से ब्राजील को आखिरी मिनट में जाकर जीत मिली थी। ऐसे में सर्बिया से पार पाना भी उसके लिए आसान नहीं होगा।

हालांकि रूस तक पहुंचने के लिए ब्राजील ने अच्छी लय दिखाई थी और 21 मैचों में केवल एक में हारी और 47 गेाल किये तथा केवल पांच गोल खाये। ब्राजील के फेगनर ने कहा कि टीम ने दोस्ताना मैचों में और क्वालिफायर में बहुत अच्छा खेला है इसलिए उससे उम्मीद है कि वह हर मैच जीते।

ब्राजील कोच टीटे संभवत: पिछले मैच की टीम को ही सर्बिया के खिलाफ उतारेंगे। दुनिया के सबसे अमीर फुटबालर नेमार ने भी अब तक केवल एक ही गोल किया है और उनके प्रशंसक उम्मीद कर रहे हैं कि वह अगले मैच में कुछ चमत्कार करेंगे।

Loading...