सुनील गावस्कर जो चाहें कहें, हमें इससे फर्क नहीं पड़ता : ऑस्ट्रेलियाई कप्तान

- in खेल

ऑस्टेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर के साथ विवाद में न पड़ने का फैसला किया है। तीसरे टेस्ट मैच के बाद पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज और मौजूदा क्रिकेट कमेंटेटर गावस्कर ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन की घबराहट उनकी कप्तानी में दिख रही थी। वहीं, पेन ने इसके जवाब में गुरुवार को कहा कि गावस्कर अपने विचार रखने के लिए स्वतंत्र हैं और उनके बयान का उनकी टीम पर असर नहीं पड़ेगा।

चौथे टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान टिम पेन ने कहा, “मैं सुनील गावस्कर के साथ किसी भी बहस में नहीं पड़ने वाला हूं। वह अपने विचार रखने के लिए स्वतंत्र हैं। इससे हमें फर्क नहीं पड़ता। गावस्कर जो चाहें वो कह सकते हैं। मुझे इस बारे में कुछ नहीं कहना।” दरअसल, गावस्कर का कहना है कि पिछले टेस्ट मैच में टिम पेन घबराए हुए थे और इसका असर उनके द्वारा गेंदबाजी में बदलाव और फील्डिंग में दिख रह था।

गावस्कर ने एक शो में कहा था, “एक कप्तान का क्रिकेट के अलावा कुछ और चीजों पर बात करना सही नहीं हैं। जब आप कुछ और चीज के बारे में बात करते हैं तो यह बताता है कि आप घबराए हुए हैं। यह बताता है कि आप विपक्षी टीम द्वारा दी जा रही प्रतिस्पर्धा को संभाल नहीं पा रहे हो। आखिर में भारत मैच बचाने में कामयाब रहा। अश्विन, पेन पर हावी रहे। मैं ऑस्ट्रेलिया का चयनकर्ता नहीं हूं, लेकिन कप्तान के तौर पर उनके दिन गिने चुने हैं।”

Loading...

पेन की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए गावस्कर ने कहा था, “अगर आप भारतीय टीम को 130 ओवर बिना विकेट लिए बल्लेबाजी करने देते हैं और वो भी तब जब ऑस्ट्रेलिया का गेंदबाजी आक्रमण शानदार है, तो आपके फील्ड प्लेसमेंट और गेंदबाजी बदलाव में कमी है।” भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार सत्र बल्लेबाजी की थी और पांच विकेट खोए थे। यहां तक कि भारतीय बल्लेबाज हनुमा विहारी और आर अश्विन सौ फीसदी फिट नहीं थे।

 

Loading...