थायरॅाइड के मरीजों के लिए ये योगासन है फायदेमंद

- in स्वस्थ्य

आज के वक्त में थायरॅाइड की परेशानी आम समस्या बनती जा रही है. बदलती लाइफस्टाइल और गलत खाने-पीने की आदतों के कारण ये समस्या बेहद बढ़ती जा रही है. थायरॅाइड के रोगी को स्वास्थ का विशेष ख्याल रखना होता है. हर रोज योग करने से थायरॅाइड की परेशानी से छुटकारा मिल सकता है. नियमित रूप से योगासन का अभ्यास करने से बॉडी स्वस्थ रहती है और कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है. आज हम आपको थायरॅाइड के रोगी को हर रोज किन योगासन का अभ्यास करना चाहिए इसके बारें में बताने जा रहे है…

विपरित करनी
थायरॅाइड के रोगी को हर रोज “विपरित करनी” योग का अभ्यास करना चाहिए. इस अभ्यास को करने से घुटनों के दर्द और कमर दर्द से भी राहत मिलती है. साथ ही थायरॅाइड के रोगी के लिए ये योगासन बेहद लाभदायक होता है.

सर्वांगासन
हर रोज “सर्वांगासन” को करने से थायरॅाइड की दिक्कत से छुटकारा मिल सकता है. थायरॅाइड के रोगी को हर रोज “सर्वांगासन” का अभ्यास करना चाहिए. “सर्वांगासन” का अभ्यास करने से कंधे मजबूत बनते हैं और पाचन तंत्र भी सही तरीके से कार्य करता है.

Loading...

मत्सयासन
नियमित रूप से “मत्सयासन” का अभ्यास करने से कई लाभ मिलते हैं. हर रोज “मत्सयासन” करने से थायरॅाइड की दिक्कत से छुटकारा मिलने के साथ ही कमर, गर्दन दर्द से भी राहत मिलती है. “मत्सयासन” का अभ्यास करने से कमर में खिंचाव की दिक्कत से भी राहत मिलती है. हर रोज इस योगासन को करने से कब्ज की दिक्कत भी दूर होती है. थायरॅाइड के रोगी को नियमित रूप से “मत्सयासन” का अभ्यास अवश्य करना चाहिए.

हलासन
“हलासन” का अभ्यास करने से कई स्वास्थ्य दिक्कतों से छुटकारा मिल सकता है. थायरॅाइड के रोगी को हर दिन “हलासन” का अभ्यास करना चाहिए. हर रोज “हलासन” करने से थायरॅाइड की दिक्कत से छुटकारा मिल सकता है.

Loading...