बहुत कुछ जानने के बाद भी क्यों फैल रही महामारी, क्या हैं कोरोना ‘सुपर स्प्रेडर’

- in स्वस्थ्य

नई दिल्ली: देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच हर थोड़े दिनों में कोई न कोई नई रिसर्च सामने आ रही है. कोरोना महामारी वैज्ञानिक भी लगातार शोध कर रहे हैं. इसी से संबंधित हाल ही में एक रिसर्च सामने आई है, जिसमें यह बताया गया है कि वे कौन से लोग हैं, जो कोरोना वायरस के ‘सुपर स्प्रेडर’ का काम करते हैं. आइए इस बारे विस्तार से जानते हैं-

अधिक संक्रमण फैलाने वाले लोग

शोध में पता चला है कि एसिम्प्टमैटिक लोगों को कोरोना का ‘सुपर स्प्रेडर’ कहा जाता है. एसिम्प्टमैटिक का मतलब है जिन्हें वायरस होने पर भी कोई लक्षण न नजर आएं और वे एकदम स्वस्थ हो. इस शोध में वैज्ञानिक ऐसे लोगों से बचने की सलाह देते हैं. एसिम्प्टमैटिक मरीज इसलिए भी अधिक संक्रमण फैलाते हैं क्योंकि उन्हें खुद संक्रमित होने का पता नहीं होता है. इस नए शोध के मुताबिक जो लोग अपनी नाक साफ नहीं रखते हैं. उनसे भी संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा होता है. शोध के मुताबिक ऐसे लोग 60 प्रतिशत तक वायरस के ड्रॉपलेट्स पैदा करते हैं.

शोध के अनुसार, मुंह की लार भी छींक के ड्रॉपलेट्स के जरिये फैल सकती है. इसमें पतली, मध्यम और गाढ़ी लार आदि शामिल है. यदि मुंह की लार पतली है तो छींक के माध्यम से इसके ड्रॉपलेट्स हवा में काफी देर तक मौजूद रह सकते हैं. यदि किसी संक्रमित व्यक्ति के मुंह से ऐसे ड्रॉपलेट्स निकलते हैं तो आसपास के स्वस्थ इंसान आसानी से संक्रमित हो सकते हैं.
वैज्ञानिकों के अनुसार जिनके दांत पतले व दांतों में गैप है, ऐसे लोग भी अधिक संक्रमण फैलाने वाले हो सकते हैं. दरअसल, छींक आने पर ऐसे लोगों के मुंह और नाक पर अधिक दबाव पड़ता है और इनके दांतों में गैप होने के कारण मुंह के ड्रॉपलेट्स ज्यादा बाहर निकलते हैं, जिससे जल्दी संक्रमण फैल सकता है.

संक्रमण से बचने का तरीका

www.myupchar.com से जुड़े ऐम्स के डॉ. अजय मोहन के अनुसार, जब भी बाहर निकलें, मास्क बिल्कुल भी न हटाएं और बाहर का खाना खानें से बचें.

Loading...

यदि लंबे समय के लिए सफर पर जा रहे हैं तो अपने साथ पानी और खाना रखें ताकि बाहर न खाना पड़े.
जहां तक हो बाहर लंबा सफर करने से बचें. बाहर के शौचालय जाने से बचें. इसके अतिरिक्त बार-बार हाथों को सैनिटाइज करते रहें. बाहर की किसी भी वस्तु या जगह पर हाथ लगाने के बाद तुरंत सैनिटाइज करें.

घर में बाहर से ला रहे किसी भी चीज को सैनिटाइज करें. सब्जी और फलों को अच्छी तरह धोकर और सूखाकर इस्तेमाल करें.

भीड़-भाड़ वाली जगह जाने से बचें और कोई कितना भी परिचित हो, उससे मास्क लगाकर ही बात करें क्योंकि किसे संक्रमण है, किसे नही, इस बात का पता लगाना काफी मुश्किल होता है.

myUpchar के अनुसार, रोज गर्म पानी से गरारा करें और स्टीम लेना ना भूलें. शरीर की इम्युनिटी को बेहतर करने के लिए फाइबर और प्रोटीन युक्त फूड का ज्यादा सेवन करना चाहिए. सुबह के समय संतरे, सेब जैसे फलों का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि ये फल फाइबर और विटामिन सी से भरपूर होते हैं.

Loading...