चीन के सरकारी अखबार ने बताया ट्रंप को दुनिया के लिए खतरा

- in अन्तर्राष्ट्रीय

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अपने एक लेख में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अमरीका फर्स्ट नीति कड़ी निंदा करते हुए इसे दुनिया के लिए बड़ा संकट करार दिया है. अख़बार ने ट्रंप अमेरिकी नौकरियों को बचाने की वकालत, फ्री ट्रेड का विरोध, दुनिया के देशों पर गलत तरीके से कारोबार करने का आरोप, पैरिस जलवायु समझौते से अमेरिका को अलग किया जाना, मेक्सिको व सात मुस्लिम देशों के खिलाफ विवादित आदेश, इमिग्रेशन पॉलिसी जैसे उदाहरण के साथ अपनी बात रखी है.  

ग्लोबल टाइम्स ने लिखा, ”सुपर पावर अमेरिका में तेजी से बढ़ता राष्ट्रवाद दुनिया को एक खतरनाक संकेत दे रहा है. राष्ट्रवाद वैश्वीकरण के लिए बड़ी चुनौती बन चुका है. बढ़ता राष्ट्रवाद और संरक्षणवाद वैश्वीकरण की प्रक्रिया को प्रभावित कर सकता है. कथित आर्थिक राष्ट्रवाद की बात करते हुए अमेरिका चीन जैसे दूसरे देशों पर अंगुली उठाता है. अब हालात ऐसे होते जा रहे हैं कि ट्रंप के आक्रामक राष्ट्रवाद से बड़ा खतरा पैदा हो गया है.”

Loading...

लेख में कहा गया है कि ताकतवर सेना और आर्थिक संपन्नता के साथ अमेरिका का राष्ट्रवाद अगर सर्वोच्च स्तर पर पहुंचता है तो इसके भयानक परिणाम होंगे. ऐसे में आगे चलकर तानाशाही शासन आ सकता है. चीन के सरकारी अखबार के मुताबिक यह कहना गलत नहीं होगा कि अमेरिका आज के समय में अस्थिरता का दुनिया का सबसे बड़ा कारण हैं. उसके कारण अंतरराष्ट्रीय संबंध प्रभावित हो रहे हैं और वैश्वीकरण की प्रक्रिया में अनिश्चिचितताएं पैदा हो गई हैं. ऐसे में चिंता इस बात की भी है कि आखिर ट्रंप का राष्ट्रवाद अमेरिका को कहां ले जाकर छोड़ेगा.

Loading...