हत्या से पहले आतंकियों ने सेना के जवान औरंगजेब से की थी पूछताछ: रिपोर्ट

- in राष्ट्रीय

जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना के जवान औरंगजेब की हत्या से ठीक पहले का एक वीडियो सामने आया है. औरंगजेब की हत्या से पहले कुछ जानकारियां निकलवाना चाहते थे.

रिपोर्ट में अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि औरंगजेब की हत्या के अगले दिन यानी शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ, जो उनकी हत्या से ठीक पहले का लग रहा है. इस वीडियो में आतंकी, भारतीय जवान औरंगजेब से उन एनकाउंटर्स के बारे में पूछताछ करते नजर आ रहे हैं, जिनका औरंगजेब हिस्सा रहे.

जानकारी के मुताबिक, डेढ़ मिनट का यह वीडियो किसी जंगल में फिल्माया गया है. वीडियो में औरंगजेब नीली जींस और टी-शर्ट पहने नजर आ रहे हैं. अधिकारियों के मुताबिक, संभवतः हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी, औरंगजेब से सेना में उनके काम, तैनाती की जगहों और जिन एनकाउंटर्स में उन्होंने हिस्सा लिया उसके बारे में पूछताछ करते नजर आ रहे हैं.

बता दें कि गुरुवार की देर शाम कश्मीर के पुलवामा में औरंगजेब का शव गोलियों से छलनी पाया गया. आतंकवादियों ने उन्हें गुरुवार की ही सुबह करीब 9 बजे अगवा कर लिया था. पुलिस और सेना के संयुक्त दल को औरंगजेब का शव कालम्पोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला. उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान मिले. औरंगजेब 4-जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फैंट्री के शादीमार्ग (शोपियां) स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे.

कैस हुई थी जवान की हत्या

Loading...

गुरुवार को औरंगजेब ईद मनाने के लिए घर जा रहे थे. सुबह करीब नौ बजे यूनिट के सैनिकों ने एक कार को रोककर चालक से औरंगजेब को शोपियां तक छोड़ने को कहा. वो बेफिक्र होकर उस कार में सवार होकर घर के लिए निकल पड़े. हालांकि उनको यह पता नहीं था कि वो इस बार ईद मनाने घर नहीं पहुंच पाएंगे. वो जिस कार में सवार होकर घर जा रहे थे, आतंकवादियों ने उनको कालम्पोरा में रोक लिया और उनका अपहरण कर लिया.

गोलियों से छलनी मिला था शव 

आतंकियों के चंगुल में आए सेना के जांबाज औरंगजेब का गोलियों से छलनी शव गुरुवार रात करीब 10 बजे पुलवामा के जंगलों से बरामद हुआ. ईद से ठीक पहले कश्मीर में आतंकियों ने खून की होली खेल डाली. पुलिस और सेना के संयुक्त दल को औरंगजेब का शव कालम्पोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला. उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान मिले. औरंगजेब 4-जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के शादीमार्ग (शोपियां) स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे.

Loading...