Unlock Cinema Halls 6 महीनों में 9000 करोड़ का अनुमानित घाटा,

- in मनोरंजन

कोरोना वायरस पैनडेमिक ने मनोरंजन इंडस्ट्री की कमर तोड़ कर रख दी है। सबसे ज़्यादा घाटे में सिनेमाघर मालिक हैं। सिंगल स्क्रीन थिएटर्स और मल्टीप्लेक्सेज़ में काम करने वाले कर्मचारी बेरोज़गार हैं। अब बॉलीवुड निर्माताओं ने भी सिनेमाघर मालिकों की आवाज़ में आवाज़ मिलाते हुए सरकार से अपील की है कि सिनेमाघरों को खोलकर लोगों को रोज़गार लौटाया जा सकता है।

बॉलीवुड निर्माताओं की संस्था प्रोड्यूसर्स ऑफ़ गिल्ड की ओर से जारी एक स्टेटमेंट में बताया गया है कि सिनेमाघरों के बंद होने की वजह से सिनेमा एग्ज़िबिटर्स इंडस्ट्री को हर महीने करीब 1500 करोड़ का घाटा हो रहा है। इससे लॉकडाउन के 6 महीनों में अनुमानित घाटा 9000 करोड़ हो गया है।

देशभर में लगभग 10,000 स्क्रींस हैं। इस सेक्टर में 2 लाख से अधिक लोग रोज़गाररत हैं, जबकि अप्रत्यक्ष रूप से यह सेक्टर लाखों लोगों को रोज़गार देता है। सिनेमाघर बंद होने से यह एग्ज़िबिटर्स इंडस्ट्री बेहद ख़राब स्थिति में पहुंच गयी है। अनलॉक इंडिया के तहत मॉल्स, एयरलाइंस, रेलवे, रिटेल, रेस्टॉरेंट्स और जिम दोबारा खोल दिये गये हैं। हाल ही में घोषित अनलॉक 4 में मेट्रो और बार खोलने की अनुमित दी जा चुकी है।

सिनेमाघरों के पास सफ़ाई व्यवस्था बनाकर रखने और भीड़ के प्रबंधन के लिए बेहतर संसाधन हैं। सामाजिक दूरी का भी पालन करवाने में भी सक्षम हैं। स्टेटमेंट में आगे बताया गया है कि कैसे मौजूदा हालात में सिनेमाघर सुरक्षित हैं।

Loading...
  • दूसरी जगहों के विपरीत सिनेमाघरों में सिर्फ़ वो लोग ही जा सकते, जिनके पास एंट्री टिकट है।
  • फ़िल्मों के शोज़ के समय में अंतर है, जिससे भीड़ इकट्ठा नहीं हो सकती।
  • प्रवेश और निकास द्वार नियंत्रित हैं।
  • प्रतीक्षा स्थलों में पर्याप्त स्थान है।

सिनेमाहॉल का प्रबंधन निजी तौर पर किया जाता है, लिहाज़ा ज़रूरी निर्देशों का पालन सम्भव है। दूसरे देशों का हवाला देते हुए कहा गया है कि चीन, कोरिया, यूके, फ्रांस, इटली, स्पेन, यूएई, यूएसए, सिंगापुर, मलेशिया, श्रीलंका में सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए सिनेमाघर खुल चुके हैं। लगभग 85 देशों में सिनेमाघर खुलने पर दर्शकों का उत्साहवर्द्धक रिस्पॉन्स मिला है।

सिनेमाघर बंद होने की वजह से कई ऐसी फ़िल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ की गयी हैं, जो पहले बड़े पर्दे पर आने वाली थीं। इनमें गुलाबो सिताबो, गुंजन सक्सेना, लूटकेस, सड़क 2, शकुंतला देवी जैसी फ़िल्में शामिल हैं। आने वाले समय में द बिग बुल, लक्ष्मी बम समेत कुछ और फ़िल्में ओटीटी पर रिलीज़ होने वाली हैं।

 

Loading...