29 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने लिया संन्यास का फैसला, 18 साल में किया था फर्स्टक्लास डेब्यू

- in खेल

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज एलिस्टेयर अपने क्रिकेट करियर को विराम लगाने का फैसला लिया है। लगातार चोटों से आजिज आ चुके क्वींसलैंड के तेज गेंदबाज और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज क्रेग मैकडरमोट के बेटे एलिस्टेयर ने महज 29 वर्ष की उम्र में क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

तकरीबन 11 साल पहले मैकडरमोट ने साल 2009 में महज 18 साल की उम्र में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया था। अच्छे प्रदर्शन से उन्होंने चयनकर्ताओं का ध्यान खींचा और दो साल के बाद ही उनको टीम में ऑस्ट्रेलिया की नेशनल टीम में भी जगह मिलने वाली थी। वह 2011 में राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के करीब पहुंचे। अपनी टीम के साथ शेफील्ड शील्ड और वनडे खिताब जीतने के अलावा वह बिग बैश लीग के दूसरे सत्र में खिताब जीतने वाली ब्रिसबेन हीट टीम का भी हिस्सा रहे।

Loading...

यह सब उन्होंने 22 वर्ष की उम्र से पहले ही हासिल कर लिया। इसके बाद चोटों का असर उनके करियर पर पड़ा, जिसकी वजह से उन्हें एक बार वापसी के बाद अब संन्यास लेना का मुश्किल फैसला लेना पड़ गया। एलिस्टेयर अपने पिता की तरह ही दायें हाथ के तेज गेंदबाज थे और उन्होंने 20 प्रथम श्रेणी मैचों में 24.77 की औसत से 75 विकेट हासिल किए।

अपने इस फैसले के बारे में उन्होंने अपनी वेबसाइट पर लिखा, ‘पिछले सत्र के शुरुआती सात महीने मेरे लिए चुनौतियों से भरे थे। यह मेरे करियर के लिए मानसिक रूप से सबसे चुनौतीपूर्ण समय था। मैं लगातार चोटों से जूझता रहा।’ उन्होंने कहा कि अब परिवार के साथ समय गुजारने के अलावा वह क्रिकेट कोचिंग के व्यवसाय पर फोकस करेंगे।

Loading...