हांगकांग में लोकतंत्र समर्थकों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट से नाराज हुआ US, सख्‍त चेतावनी जारी की

हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं के खिलाफ राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तारी वारंट पर अमेरिका ने गहरी चिंता व्‍यक्‍त की है। शुक्रवार को अमेरिका के विदेश मामलों की समिति ने कहा है कि यह कार्रवाई चीन को कमजोर करती है। चीन का यह कदम उसको अंतरराष्ट्रीय दायित्‍वों से अलग करता है। चीन की यह कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय जगत में उसकी विश्‍वसनीयता को कमजोर करेगी।

लोकतंत्र और कानून के शासन के लिए खड़े लोगों को चुप करा रहा है चीन 

विदेशी मामलों की समिति के अध्यक्ष इलियट एल एंगेल और सीनेटर बॉब मेनेंडेज ने अपने एक संयुक्‍त बयान में कहा कि हांगकांग की ताजा गिरफ्तारी वारंट की घोषणा से हम चिंतित हैं। उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तारी वारंट में कई प्रसिद्ध लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ता भी शामिल हैं। इसमें से कई कार्यकर्ता दशकों से संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका के नागरिक हैं। उन्‍होंने कहा कि चीन की यह कार्रवाई अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय में उसकी छवि को ठेस पहुंचाएगी। चीन अंतरराष्‍ट्रीय कानूनों और नियमों का उल्‍लंघन कर रहा है। वह अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय के एक जिम्‍मेदार नियम निर्धारक सदस्‍य के रूप में अपनी विश्‍वनीयता को खो कर रहा है। संयुक्‍त बयान में जोर देकर कहा गया कि अगर बीजिंग को लगता है कि यह प्रयास स्वतंत्रता, लोकतंत्र, मानवाधिकारों और कानून के शासन के लिए खड़े लोगों को चुप कर देगा, तो यह गलत है। उन्‍होंने कहा कि आज हम सभी हांगकांग ही हैं।

Loading...