उत्तराखंड में रोजाना रिकवरी की तुलना में नए मरीजो संख्या कई गुना ज्यादा, 279 और संक्रमित

- in उत्तराखंड

उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार थम नहीं रही है। रोजाना रिकवरी की तुलना में नए मरीज कई गुना ज्यादा आ रहे हैं। पिछले 21 दिन से प्रदेश में यही स्थिति है। बुधवार को भी 91 मरीज स्वस्थ हुए तो 279 और में कोरोना की पुष्टि हुई। उत्‍तराखंड में अब तक कोरोना के कुल 6866 मामले आ चुके हैं। इनमें 3811 ठीक हो गए हैं। 2944 मरीज विभिन्न अस्पतालों व कोविड-केयर सेंटर में भर्ती हैं, जबकि 38 राज्य से बाहर जा चुके हैं। वहीं, 73 मरीजों की मौत भी चुकी है। इनमें तीन मरीजों की मौत बुधवार को हुई।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार देहरादून जिले के भोगपुर निवासी 50 वर्षीय एक व्यक्ति की एम्स ऋषिकेश में मौत हुई है। उन्हें 21 जुलाई को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह निमोनिया, हाइपरटेंशन व गुर्दा रोग से पीड़ित थे। इसके अलावा खुड़बुड़ा निवासी एक 64 वर्षीय महिला की मौत दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में हुई है। महिला को भी निमोनिया, हाइपरटेंशन सहित अन्य स्वास्थ्य समस्याएं थीं। वहीं 23 वर्षीय एक महिला की हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय में मौत हुई है। बुधवार को 4609 सैंपल की जांच रिपोर्ट मिली। जिनमें 4330 की रिपोर्ट निगेटिव और 279 की रिपोर्ट पॉजिटिव है।

ऊधमसिंहनगर में सर्वाधिक 81 मामले आए हैं। इनमें 80 पूर्व संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोग हैं। जबकि एक की ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं लगी है। हरिद्वार में 74 की रिपोर्ट पॉजिटिव है, जिनमें 32 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आकर संक्रमित हुए हैं। वहीं 42 अन्य की ट्रेवल हिस्ट्री पता की जा रही है। देहरादून में आए 50 नए मामलों में 30 संक्रमितों के संपर्क में आए लोग हैं। पिथौरागढ़ में भी कोरोना के 26 नए मामले आए हैं। 13 एक ही अस्पताल में भर्ती मरीज हैं। नौ कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आए लोग हैं। नैनीताल में 20 और अल्मोड़ा में 18 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं।

उत्तरकाशी में पांच और लोग संक्रमित मिले हैं। इनमें एक व्यक्ति पश्चिम बंगाल से लौटा है, अन्य संक्रमितों के संपर्क में आए हैं। पौड़ी में बिहार से लौटे दो और जालंधर से लौटा एक व्यक्ति संक्रमित मिला है। चंपावत व टिहरी में भी एक-एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इधर, बुधवार को 91 लोग डिस्चार्ज भी किए गए हैं। इनमें 42 देहरादून, 39 नैनीताल, छह उत्तरकाशी व चार ऊधमसिंहनगर से हैं।

पुरोला विधायक में कोरोना के लक्षण

पुरोला विधायक राजकुमार में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर उन्हें दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में उनका उपचार शुरू कर दिया गया है। साथ ही उनका सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया है। जानकारी के अनुसार, पुरोला (उत्तरकाशी) से कांग्रेस के विधायक राजकुमार की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया। जहां पर चिकित्सकों ने उनकी जांच की। उनमें कोरोना से मिलते-जुलते लक्षण पाए गए हैं। उसके बाद विधायक को कोरोना संदिग्धों के लिए बनाए गए अलग वार्ड में भर्ती करा दिया गया। विधायक के अस्पताल में भर्ती होने की अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने पुष्टि की है।

Loading...

पलटन बाजार के बाद एस्लेहाल पहुंचा कोरोना

जनपद में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। हर रोज संक्रमण के कई-कई मामले मिलने से जहां सिस्टम में हड़कंप मचा हुआ है, वहीं आमजन खौफ में हैं। चिंताजनक यह कि कोरोना संक्रमितों में अब बड़ी संख्या में बिना ट्रेवल हिस्ट्री वाले भी लोग हैं। इसके अलावा फ्रंटलाइन वर्कर्स, व्यापारी और स्थानीय नागरिक भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। सुद्धोवाला स्थित जिला कारागार भी कोरोना की जद में आ चुका है। इसी तरह दून के भीड़भाड़ वाले बाजारों में भी कोरोना की घुसपैठ तेजी से हो रही है।

कुछ दिन पहले पलटन बाजार में एक दुकान में काम करने वाला सेल्समैन व मच्छी बाजार में एक व्यापारी कोरोना संक्रमित मिलने से अन्य व्यापारियों में हड़कंप मच गया था। वहीं अब शहर के बीचोंबीच स्थित एस्लेहाल में भी कोरोना की दस्तक हो चुकी है। यहां पर एक ज्वेलरी शॉप में काम करने वाले पांच लोग संक्रमित मिले हैं। इधर, निजी अस्पतालों का स्टाफ भी लगातार संक्रमित हो रहा है।

बहरहाल, बुधवार को दून में कोरोना संक्रमण के 50 और मामले मिलने से संक्रमितों की अब तक की संख्या बढ़कर पंद्रह सौ पार यानी 1530 हो गई है। इससे एक्टिव मरीजों का ग्राफ भी बढ़क़र 425 हो गया है। जबकि कोरोना संक्रमित 40 लोगों की यहां मौत भी हो चुकी है। प्रदेशभर में सर्वाधिक मौत देहरादून जिले में ही हुई हैं।

Loading...