सीतापुर के विधायक ज्ञान तिवारी ने कहा- बाढ़ से बचाव के स्थाई प्रबंध करने होंगे

सीतापुर। विधायक ज्ञान तिवारी ने कहा कि बाढ़ से बचाव के स्थाई प्रबंध करने होंगे। इस बार की बाढ़ निकलने के बाद इस विषय पर व्यापक कार्ययोजना तैयार की जाएगी। विधायक ने मंगलवार को तहसील बिसवा के काशीपुर खमरिया ग्राम समूह में नदी द्वारा कटान की रोकथाम को लेकर स्टड निर्माण की परियोजना का शुभारंभ किया गया।

इस  अवसर पर विधायक ने कहा बाढ़ राहत कार्य में हीलाहवाली करने वाले अफसरों पर सख्त कार्रवाई होगी विधायक ने बताया सीतापुर की चार परियोजनाओं को मुख्यमंत्री द्वारा स्वीकृति दी गई है । 35 करोड़ की इन परियोजनाओं पर 25 करोड़ की स्वीकृति जारी की गई है। सबसे गंभीर काशीपुर खमरिया की परियोजना पर काम शुरू हो गया है यह सबसे गंभीर प्वाइंट है इसके कटने से 20 से अधिक गांव प्रभावित होते हैं।  उन्होंने आगे कहा कि बाढ़ पीडि़तों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जाएगी। बाढ़ में फंसे मवेशियों के लिए चारे का भी इंतजाम किया जाएगा। जिन लोगों कच्चे पक्के मकान बाढ़ में ढह जाएंगे उन्हें अहेतुक सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।

विधायक ने कहा बाढ़ से  बचाव का स्थाई हल ढूंढ़ना होगा। बाढ़ निकलने के बाद इस विषय पर व्यापक कार्ययोजना तैयार की जाएगी। बाढ़ में फसल की काफी क्षति होती है। अधिकारियों से कहा गया है कि वे अभी से क्षति का आकलन शुरू कर दें। जिससे जल्द से जल्द पीड़ितों को मुआवजा की तैयारी अभी से कर ली जाये।

Loading...

विधायक ने कहा बाढ़ निकलने के बाद गांवों में स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों को मेडिकल सुविधाएं दी जाएं। शुद्ध पेयजल का इंतजाम करने के भी निर्देश दिए गए हैं। गांव में संक्रामक बीमारियों को रोकने की चुनौती से निपटने के लिए प्रशासन को तैयार रहना होगा। इस दौरान पूजा पाठ कर स्टड निर्माण के कार्य का शुभारंभ विधायक व अधिकारियों के द्वारा किया गया। इस दौरान विधायक प्रतिनिधि ओम प्रकाश मिश्रा  सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता व अधिशासी अभियंता सहायक अभियंता श्री रमेश चंद्र अवस्थी व क्षेत्र के ग्रामीण मौजूद रहे ,उप जिलाधिकारी, सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता, अधिशासी अभियंता ,सहायक अभियंता  रमेश चंद्र अवस्थी  सहित क्षेत्र के ग्रामीण मौजूद रहे। 

 
Loading...