ईसाई महिला Asia Bibi ने बताई पाकिस्‍तान में हुए उन पर जुल्‍मों सितम की दास्‍तां….

ईशनिंदा के आरोप (blasphemy charges) में पाकिस्‍तानी जेल में आठ साल बिताने और फिर निर्वासन की पीड़ा झेल रही ईसाई महिला आसिया बीबी (Asia Bibi) ने कहा है कि वह एक अनजान देश कनाडा (Canada) में अपनी जिंदगी नए सिरे से शुरू करने की कोशिश में हैं। उन्‍होंने घर लौटने के अपने सपने और जेल में उन पर हुई बर्बरताओं का जिक्र करते हुए कहा कि अभी तक मुझे सच्‍ची आजादी मिलनी बाकी है।

समाचार एजेंसी एएफपी को पेरिस में दिए गए एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने कहा कि मैंने अभी तक कनाडा नहीं घूमा है। अधिकांश समय मैं घर पर ही रहती हूं। यहां होने वाली बर्फबारी और ठंड के कारण मैं ज्यादा बाहर नहीं जाती हूं। दरअसल, आसिया बीबी फ्रांस में अपनी किताब ‘एनफिन लिब्रे’ फाइनली फ्री (Enfin Libre! Finally Free) को प्रमोट करने के लिए फ्रांस (France) पहुंची थीं। फ्रांसीसी पत्रकार एन्ने-इसाबेले (Anne Isabelle) के साथ आसिया ने भी इस किताब के लेखन में मदद की है।

आसिया कनाडा की अधिकारिक भाषा में बात नहीं कर पाती हैं… ना ही अंग्रेजी या फ्रेंच बोल पाती हैं। उन्‍होंने कहा कि कनाडा में निर्वासित जीवन बिताते हुए वह अपनी बहनों, भाइयों और माता-पिता को बहुत याद करती हैं। उन्‍हें इसकी उम्‍मीद है कि बदलाव आएगा और एक ना एक दिन वह अपने परिवार के साथ पाकिस्‍तान लौट पाएंगी। उन्‍होंने कहा कि मुझे ऐसी उम्‍मीद है क्‍योंकि जब मैं जेल में थी तब सोचती थी कि एक ना एक दिन जरूर आजाद होऊंगी।

Loading...

बता दें कि आसिया पर साल 2009 में ईशनिंदा के आरोप लगे थे। साल 2010 में पाकिस्तान की एक अदालत ने उन्‍हें मौत की सजा सुनाई थी लेकिन साल 2018 में पाकिस्‍तान की सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया। आसिया पर यह आरोप उस दौरान लगे थे जब वह मुस्लिम महिलाओं के साथ बगीचों में फालसा इकट्ठा कर रही थीं। रिपोर्टों के मुताबिक, कई घंटे काम करने के बाद किसी महिला ने आसिया को कुएं से पानी लाने को कहा… इस दौरान आसिया ने उस पानी में से दो चार घूंट पी लिए थे। इस पर मुस्लिम महिलाएं नाराज हो गई थीं। पांच दिन बाद आसिया के घर में जबरन पुलिस पहुंची और उस पर ईशनिंदा के आरोप में मुकदमा चला।

अपनी किताब में आसिया ने पाकिस्‍तान में उन पर हुए जुल्‍मों सितम का जिक्र किया है। बकौल आसिया उन्‍हें चेन से बांधकर रखा जाता था और अन्य बंदी उनका मजाक उड़ाते थे। उन्‍होंने कहा कि मैं कभी भी पैगंबर की निंदा नहीं कर सकती हूं। लेकिन मेरे ऊपर जो झूठे आरोप लगाए गए वो केवल उसी एक गिलास पानी के लिए जिसे मैंने पीया था। सारा कुछ उसी के लिए हुआ था। फ‍िलहाल, आसिया अपने पति आशिक (Ashiq, 58) और बेटियां इशम (Eisham, 20) और इशा (Eisha, 21)… के साथ कनाडा में किसी अज्ञात जगह पर रह रही हैं।

Loading...