कासगंज उपद्रव में दोहरा रवैया अपना रही है प्रदेश सरकार, एएमयू छात्र संघ ने लगाया आरोप

- in Main Slider, प्रदेश, बड़ी खबर

फेस:- कासगंज उपद्रव में एक समुदाय विशेष पर प्रशासन द्वारा की जा रही कार्रवाई के विरोध में एएमयू छात्रसंघ उतर आई है। प्रदेश सरकार पर दोहरा रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। एएमयू छात्रों द्वारा इसके विरोध में एक प्रोटेस्ट मार्च निकाले जाने की तैयारी की जा रही है, साथ ही एक प्रतिनिधिमंडल कासगंज जाकर वहां समुदाय विशेष के पीडि़तों से भी मिलेगा। एकपक्षीय कार्रवाई के विरोध में राष्ट्रपति व राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन भी देने की बात की जा रही है।

वीओ – एएमयू छात्रसंघ सचिव मोहम्मद फहद ने एएमयू स्टूडेंट्स यूनियन हॉल में मीडिया को बताया कि कासगंज मंे प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है, धारा 144 का मजाक बनाया जा रहा है, एक तरफ स्थिति काबू में करने की बात कही जा रही है, वहीं दूसरी तरफ एक समुदाय विशेष के लोगों के घर जलाये जा रहे हैं। मृतक चंदन गुप्ता को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीस लाख का मुआवजा दे रहे हैं लेकिन उपद्रव में समुदाय विशेष के जो गोली गोली लगने व आंख फोड़ने से घायल हुये हैं, उनको कोई मुआवजा नहीं देने की बात नहीं की जा रही है। सिर्फ खास समुदाय के करीब 80 लोगों को उठा लिया गया है। छात्रसंघ ने मांग की है कि घायल नौशाद को गोली मारने और अकरम की आंख फोड़ने वालों के विरूद्ध भी कार्रवाई हो। 

Loading...

बाइट – मोहम्मद फहद, एएमयू छात्रसंघ सचिव

Loading...