मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के अचानक लखनऊ जेल पहुंचने से मच गई खलबली…

Loading...

मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के रविवार को अचानक लखनऊ जेल पहुंचने से खलबली मच गई है। लखनऊ जेल का निरीक्षण करने पहुंचे अवस्थी के साथ अन्य अधिकारी भी पहुंचे हैं। लखनऊ जेल में वर्तमान समय में कई आतंकियों के साथ पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति तथा पावर कॉरपोरेशन के पूर्व एमडी एपी मिश्रा भी बंद हैं। जेल के निरीक्षण के बाद उन्होंने चार पेज का निर्देश भी जारी किया।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के साथ ही गृह विभाग के अधिकारी भी लखनऊ जेल का निरीक्षण कर रहे हैं। इस निरीक्षण में उनके साथ डीजीपी ओपी सिंह सहित पुलिस महकमे के तमाम अधिकारी भी मौजूद हैं। उनके इस औचक निरीक्षण से जेल प्रशासन में अफरा तफरी मच गई है। जेल के अधिकारी तथा कर्मचारी इस निरीक्षण के बेहद घबराए हैं।

रविवार को आमतौर पर लखनऊ जेल में काफी लोग बेहद आराम के मूड में होते हैं। आज इस औचक निरीक्षण से लखनऊ जेल प्रशासन में जबरदस्त खलबली मची। उनके साथ निरीक्षण के दौरान लखनऊ के डीएम तथा एसएसपी भी थे। बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद से जेलों की सुरक्षा को लेकर प्रदेश सरकार बेहद सतर्क है।

जेल का निरीक्षण के बाद आवश्यक कार्यवाही के निर्देश

1 – जेल के भवन व सोलर पॉवर प्लांट व सीवेज हैंडओवर नहीं हुआ हैं । विस््तृत प्रस्ताव व कार्यवाही शासन स्तर पर निर्माण निगम के साथ प्रस्तावित की जाय।

2- जेल में सीसीटीवी अपग्रेड कर कैमरा की संख्या 200 तक करायी जाय। इसका प्रस्ताव एक सप्ताह में शासन में दें।

3- जेल के चिकित्सालय में डिजिटल एक्स रे तथा अल्ट्रा साउंड की व्यवस्था के लिए बजट प्राप्त कर 15 दिन में क्रय  की कार्रवाई हो।

4- जेल में स्टाफ़ की कमी का विवरण प्रस्तुत किया जाय ।

5 जेल में महिला कैदियों की व्यक्तिगत शिकायत पर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाय ।

6- जेल के कूड़ा निस्तारण के लिए नगर पंचायत गोसाईंगंज के साथ प्रस्ताव शासन को दिया जाय ।

7- जेल में मजदूरी की दर का पुनरीक्षण प्रस्ताव जिलाधिकारी को दस दिन में भेजें। 8- जेल में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग की व्यवस्था को निस्तरित किया जाय।

9- जेल में एसटीपी व्यवस्था के लिए जिलाधिकारी तथा वरिष्ठ जेल अधीक्षक किसी विशेषज्ञ से प्रस्ताव तैयार कराने के बाद शासन में भेजें।

10 – जेल में महिला बंदियों के साथ छोटे बच्चों का विशेष ध्यान दिया जाय। खेल सामग्री की व्यवस्था की जाय ।

11-सीसीटीसी की फीडिंग 60 दिन सुरक्षित रखी जाय ।

12- मुलाकाती की व्यवस्था ऑन लाइन है। डीजी जेल ऑनलाइन व्यवस्था के लिए समस्त जेल का विवरण दस दिसंबर तक उपलब्ध करायें।

13- आवासीय परिसर का ट्यूबवेल फेल हो गया हैं। डीजी जेल दस दिसंबर तक आख्या उपलब्ध करायें।

14- सीनियर जेल सुपरीटेंडेंट को किसी भी स्टाफ की कोई भी लिखित शिकायत प्राप्त नहीं है ।

15- वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के अनुसार जेल की व्यवस्था चुस्त है और समन्वय बेहतर है ।

16- जेल के अंदर अवैध मोबाइल की सुविधा नहीं है। इसको सुनिश्चित करें।

Loading...