हार से हिले विराट ने अपनी टीम को दिया टारगेट, 17 दिन में लगाओ जीत का ‘सिक्सर’

- in खेल

नई दिल्ली. कोलकाता से हार ने विराट को हिला दिया है. विराट अब और हार बर्दाश्त नहीं करने वाले. लिहाजा, उन्होंने अब अपनी टीम के खिलाफ कड़ा रूख अख्तियार किया है. एक बड़ा फैसला लेते हुए उन्होंने अपनी टीम को टारगेट दिया है. ये टारगेट है एक सीमित डेडलाइन के अंदर जीत का बिगुल फूंकने का. ये टारगेट है जीत का सिक्सर लगाने का. अपने गढ़ में कोलकाता से मिली हार के बाद जब विराट को सांप सूंघा तो उन्होंने सबसे पहले अपनी टीम को ही निशाने पर लिया. विराट ने कहा, ” कोलकाता के खिलाफ हम खराब खेले. लेकिन, मैं फिलहाल इस पर कुछ भी नहीं कहूंगा. अब यहां से हमें बस जीत का सिक्सर लगाना है.”

कम से कम 6 जीत जरूरी

IPL-11 में विराट की टीम अपना आधा पड़ाव पार कर चुकी है. यानी, 14 में से 7 मुकाबले ये टीम खेल चुकी है और सिर्फ 2 में ही इन्हें जीत मिली है. साफ है कि 5 मुकाबले इस टीम ने अब तक गंवाए हैं, जिस वजह से इनकी प्ले ऑफ की डगर मुश्किल हो गई है. अब अगर प्ले ऑफ की राह में हिचकोले खाती गाड़ी को हाईवे पर दौड़ाना है तो इन्हें बाकी बचे अगले 7 मुकाबलों में से 6 तो जीतने ही पड़ेंगे.

‘अब हर मुकाबला सेमीफाइनल’

विराट ने कहा, “हमें अब हर मुकाबले को सेमीफाइनल की तरह देखना है. हमारे लिए अब चूक की गुंजाईश नहीं है. ऐसे में मैं अपने साथी खिलाड़ियों से चाहूंगा कि वो कमर कसकर अपना बेस्ट देने के लिए तैयार रहें.”

Loading...

17 दिन, 7 मुकाबले

RCB को अब 1 से 17 मई के बीच लीग राउंड के अपने बाकी बचे 7 मुकाबले और खेलने हैं. अगर उन्हें प्ले ऑफ में पहुंचना है तो इन 7 में से 6 में उन्हें जीत का दम दिखाना होगा. और, ऐसा करने के लिए न सिर्फ बल्लेबाजी बल्कि गेंदबाजी और फील्डिंग को भी दुरुस्त करना होगा.

बॉलिंग-फील्डिंग करनी होगी दुरुस्त

कोलकाता के खिलाफ हार की एक बड़ी वजह खराब फील्डिंग भी रही. अगर मुरुगन अश्विन क्रिस लिन का आसान सा कैच नहीं छोड़ते तो शायद बैंगलोर की टीम मुकाबला जीत जाती. क्योंकि, जिस वक्त लिन का कैच छूटा उस वक्त वो महज 7 रन पर खेल रहे थे , जबकि उस जीवनदान के बाद उन्होंने नाबाद 62 रन जड़ दिए. मैच के दौरान ऐसी ही गलतियों की वजह से हार के बाद विराट का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने कहा कि, ” अगर हम ऐसी गलतियां करते रहे तो जीत के हकदार नहीं हो सकते.” बहरहाल, अब कप्तान कोहली ने अपनी टीम के लिए एक नया टारगेट सेट किया है. देखना ये है कि अगले 17 दिन यानी कि 1 से 17 मई के बीच खेलने वाले 7 मुकाबलों में उनकी टीम अपनी हार के सिलसिले पर लगाम लगाकर टारगेट पर कैसे खरा उतरती है.

Loading...
E-Paper