मुंबई की जीत के लिए रोहित को ज्यादा से ज्यादा ओवर बल्लेबाजी करनी होगी

- in खेल

सनराइजर्स हैदराबाद जिस ढंग से आइपीएल में मैच जीत रही है, उसे देखकर तो बस यही कहा जा सकता है-दिमाग चकराने वाला। दो बार वे सात रन प्रति ओवर से कम रनरेट वाले लक्ष्य का बचाव कर चुके हैं। यह एक असंभव सी बात लगती है, लेकिन जब आप दो बार ऐसा कारनामा करते हैं, तो यह दर्शाता है कि आपकी गेंदबाजी कितनी मजबूत है। उनका आत्मविश्वास भी काफी बढ़ा हुआ है। उनके पास वैरी वैरी स्पेशल मेंटर लक्ष्मण हैं, जिन्होंने अपनी कलाइयों के जादू के दम पर फॉलोऑन के बावजूद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत को जीत दिलाई थी। हां, यह सही है कि उन्हें राहुल द्रविड़ और हरभजन व सचिन तेंदुलकर की गेंदबाजी से भी मदद मिली थी। लेकिन, अगर लक्ष्मण विशाल पारी खेल द्रविड़ के साथ साझेदारी नहीं करते तो भारत मैच और सीरीज दोनों गंवा देता। डगआउट में उनकी मौजूदगी से सनराइजर्स के खेल के स्तर में बढ़ोतरी को देखकर कोई हैरानी नहीं होती। इसी वजह से वे असंभव स्थिति में भी जीत हासिल कर रहे हैं।

Loading...

उनके पास टॉम मूडी और जादूगर मुथैया मुरलीधरन भी हैं, ऐसे में उनके पास बेहद शांत लोग हैं, जो यह मुश्किल स्थिति में तनाव नहीं आने देते हैं। उनके कप्तान केन विलियमसन भी बेहद कूल रहते हैं। भले ही उन्होंने दाढ़ी रखी हो, लेकिन उसके पीछे उनका मासूम चेहरा छिपता नहीं। वह जिस ढंग से अपने गेंदबाजों का उपयोग कर रहे हैं और फील्डरों को लगा रहे हैं, वह शानदार है। उन्हें और टीम प्रबंधन को पता है कि वे क्वालीफाई करने के करीब हैं, लेकिन वे अपनी टीम को लापरवाही बरतने नहीं देंगे। राजस्थान टीम के पास सैमसन और स्टोक्स जैसे खिलाड़ी हैं, जो अपने दम पर मैच का रुख पलट सकते हैं। ऐसे में सनराइजर्स इस मैच में भी सतर्क रहेगा।

 अंक तालिका में शीर्ष पर चल रही चेन्नई सुपर किंग्स ने भी आरसीबी के खिलाफ 200 रन का पीछा कर शानदार जीत हासिल की। इस टूर्नामेंट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले अंबाती रायुडू ने उन्हें अच्छी शुरुआत दिलाई और इसके बाद धौनी ने अपने ही स्टाइल में मैच को खत्म किया। एक महीने पहले ही चोट से वापसी करने वाले कोरी एंडरसन को आखिरी ओवर थमाने का कोहली का फैसला समझ से बाहर है। धौनी ने उनकी गेंदबाजी की धज्जियां उड़ा दी और चेन्नई ने असंभव दिख रही जीत हासिल कर ली। निश्चित तौर पर कोहली को इस समय धौनी से मिलने वाली सलाह की कमी खल रही होगी। जब वह भारत के लिए खेलते हैं, तो यह सलाह उन्हें मिलती रहती है। इसके अभाव में ही आरसीबी को जो मैच जीतना चाहिए था, उसमें उन्हें हार मिली। मुंबई को पता है कि खिताब बचाने के लिए उन्हें हर हाल में मैच जीतना होगा। कोई उनके युवा खिलाडिय़ों को बताए कि टी-20 में बल्लेबाजी का मतलब सिर्फ बड़े शॉट खेलना नहीं है। उनके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज व कप्तान रोहित शर्मा को ज्यादा से ज्यादा ओवर तक बल्लेबाजी करने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए क्योंकि हमने देखा है कि अब तक मुंबई ने सिर्फ उसी मैच में जीत दर्ज की, जिसमें उन्होंने बड़ी पारी खेली। 
Loading...