प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए सीबीएसई ने स्कूलों को दिया यह कड़ा निर्देश

Loading...

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 15 फरवरी को होने वाली बोर्ड की थ्योरी परीक्षा से पहले एक जनवरी से सात फरवरी के बीच होने वाली प्रयोगात्मक परीक्षा (प्रैक्टिकल) में पारदर्शिता को लेकर परिपत्र जारी कर दिया गया है. वैसे यह पहली बार होने जा रहा है कि, ”स्कूलों को निर्देश दिया गया है कि वह प्रयोगात्मक परीक्षा की परीक्षक के साथ फोटो सीबीएसई के लिंक पर डाले.”

हाल ही में बोर्ड ने कहा है कि, ”यह चित्र समूह में, स्पष्ट फोटो, तिथि और निर्धारित समय की जानकारी बोर्ड द्वारा भेजे गए एप लिंक से अपलोड करेंगे और इसी के साथ सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने इसे बोर्ड परीक्षाओं में पारदर्शिता को लेकर उठाए महत्वपूर्ण कदमों में से एक बताया है.” वहीं आगे बात करते हुए उन्होंने कहा कि, ‘आने वाले समय में बेहतर परीक्षा संपन्न कराने के लिए और कदम उठाए जा सकते हैं.’

आपको बता दें कि प्रयोगात्मक परीक्षा के बाद अंक अपलोड करना होगा और बोर्ड ने स्कूलों में आयोजित होने वाली प्रयोगात्मक परीक्षा के ठीक बाद दिए गए अंक को बोर्ड के लिंक पर अपलोड करने का निर्देश दे दिए हैं. इसी के साथ अब बोर्ड ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि, ‘अंक अपलोड करते समय, स्कूल यह सुनिश्चित करेंगे कि सही अंक अपलोड किए जाएं, क्योंकि अंक अपलोड किए जाने के बाद अंक में कोई सुधार नहीं होगा.’ वहीं आगे उन्होंने निर्देश में कहा कि, ‘स्कूलों को अंक देते और अपलोड करते समय प्रयोगात्मक और प्रोजेक्ट के लिए आवंटित अधिकतम अंक को ध्यान में रखना चाहिए.’

Loading...