कर्नाटक चुनाव के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी के सभी लोगो से नमो ऐप के जरिये की सीधी बात

कर्नाटक में 12 मई को वोट डाले जाने हैं. बीजेपी ने सभी सीटों पर उम्मीदवारों की फाइनल लिस्ट भी जारी कर दी है. ऐसे में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए नमो ऐप के जरिये उनसे ‘सीधी बात’ की. इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कुछ दल लॉलीपॉप दिखाकर कर्नाटक चुनाव जीतने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं. कांग्रेस मुक्त होने के बाद ही राजनीति का शुद्धिकरण होगा. पीएम ने कर्नाटक चुनाव में जनता से ज्यादा से ज्यादा बीजेपी के लिए वोट कर राज्य में ‘कमल’ खिलाने की अपील की.

पढ़ें, पीएम मोदी के बीजेपी उम्मीदवारों के दिए गए 10 ‘चुनावी मंत्र’:-

मोदी ने कहा, “अगर आप पिछले चुनावों के देखें, तो आप पाएंगे कि कैसे कुछ राजनीतिक पार्टियों ने अपने फायदे के लिए धर्म के नाम पर समाज को बांटने का काम किया.

इन दलों ने कुछ समुदाय की भावनाओं का शोषण किया और चुनाव जीतने के बाद उन्हें किनारे कर दिया. हमारी पार्टी ऐसा नहीं करती है. बीजेपी गरीबों और शोषितों की पार्टी है.

पीएम ने कहा, “कुछ राजनीतिक दल एक जाति को चुनाव से पहले लॉलीपॉप पकड़ाते हैं और फिर चुनाव में उनका उपयोग करते हैं. चुनाव बदल जाता है और इसी तरह हर नए ग्रुपों को लॉलीपॉप देते हैं.”

उन्होंने कहा, “भारत के राजनीतिक कल्चर को कांग्रेस के कल्चर से मुक्ति दिलानी होगी. कांग्रेस मुक्त भारत बनने के बाद ही राजनीति का शुद्धिकरण होगा. आज कांग्रेस की वजह से ही राजनीति की गलत छवि बनी है.”

पीएम मोदी ने कहा, “हमें सिर्फ विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ना है. आप बीजेपी उम्मीदवारों को इस दौरान चौकन्ना रहना होगा, क्योंकि राजनीतिक पार्टियां बीजेपी के खिलाफ झूठ फैला रही है. हमें झूठ से भी लड़ना है और विकास-सच की लड़ाई भी लड़नी है.”

Loading...

बीजेपी प्रतिनिधियों से बात करते हुए पीएम ने कहा, “विदेशी एजेंसियों के जरिये चुनाव में गुमराह करने की कोशिश की जा रही है. कर्नाटक में माताओं-बहनों को टॉयलेट से वंचित रखा गया. केंद्र सरकार ने चार साल में 34 लाख टॉयलेट बनाए हैं. सिद्धारमैया सरकार ने विकास के एक भी काम नहीं किए.” पीएम ने कहा, “मुझपर आरोप लगाया जाता है कि मोदी सिर्फ धन्नासेठों के लिए काम करता है. क्या ये 34 लाख टॉयलेट अमीरों के लिए बने हैं. आप ही बताइए?”

उन्होंने कहा, “सभी कार्यकर्ताओं को एक-एक वोटर के पास पहुंचना चाहिए. मैं खुद चीन के दौरे के बाद कर्नाटक दौरे पर आऊंगा.” उन्होंने कहा कि लोगों से व्यक्तिगत रूप से बात कीजिए.

एक सवाल के जवाब में पीएम ने कहा, “जितने पुरुष कार्यकर्ता हैं, उतने ही महिला कार्यकर्ताओं को वोटरों से मिलने के लिए भेजिए. इसके अलावा हर कार्यकर्ता को कुछ परिवारों को जिम्मा दे दीजिए. हमें चुनाव विधानसभा का नहीं जीतना, बल्कि बूथ का चुनाव जीतना है.”
पीएम ने आगे कहा, “अब जब लोगों को लग रहा कि कांग्रेस हारने वाली है तो लोग त्रिशंकु विधानसभा की बात कर रहे हैं. 2014 में भी इस प्रकार की बातें कही गई थीं. मैं लोगों से अपील करता हूं कि आप पूर्ण बहुमत की सरकार लाइए. दुनिया में आज भारत का नाम रोशन हुआ है इसका कारण केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार है.”

बता दें की कर्नाटक में 12 मई को चुनाव हैं और 15 मई को नतीजों की घोषणा होगी. इसके पहले 1 मई से पीएम मोदी राज्य में चुनावी अभियान की शुरुआत करेंगे. इस दौरान पीएम एक के बाद एक कई रैलियों को संबोधित करेंगे.

Loading...